आज रो लेने दे वे जी भर के / Aaj Ro Len De Jee Bhar Ke

Free Song Lyrics, Latest Hindi Songs Lyrics, Hindi old song lyrics, romantic Hindi song lyrics, beautiful Hindi song lyrics, best Hindi songs lyrics of all time, Gazal lyrics, Bhajan lyrics in Hindi आज रो लेन दे जी भर के गाने को शारिब साबरी ने गाया है और शारिब और तोशी, कलीम शेख ने लिखा है जबकि मुजिक शारिब साबरी व तोशी ने दिया है

  • Song - Aaj Ro Len De
  • Music - Shaarib & Toshi 
  • Singer - Shaarib Sabri 
  • Lyrics - Shaarib & Toshi, Kalim Sheikh 
  • Song Produce By - Aditya Dev
  • Mix & Mastered By- Tosief Shaikh 
  • Live Rabab Played – Tapas
  • Music on T-Series


आज रो लेने दे जी भर के Hindi Songs Lyrics


आज रो लेने दे जी भर के
मेरी साँसों से दग़ा कर के
तू गया मुझको फ़ना कर के वे जानिया

मेरा ज़ख्म-ए-दिल हरा कर दे
इस ग़म की अब दवा कर दे
नज़रों को बावफ़ा कर दे वे जानिया

आदत है तेरी या तेरा नशा है
कैसे बताऊँ तुझको रहबरा

साँसों को तेरी ज़रूरत, करे कैसे बयाँ कोई
आँखों में है ऐसी रंगत कि रोशन को जहाँ कोई
दिल बिमार-ए-मोहब्बत है
बस चाहता थोड़ी राहत है
तेरा ग़म ही मेरी मंज़िल है
तू न क्यों मुझको हासिल है
हूँ मैं दरिया तू ही साहिल है वे जानिया

ज़िंदा हूँ है मुझको हैरत
मैं तेरे बिन जिया कैसे
साँसों ने कि ऐसी जुर्रत
ज़हर हँस के पिया कैसे
तेरे दर्द से मेरी निस्बत है
तेरी यादों की हसीं सोहबत है
अश्कों से दिलको तर कर दे
मेरी आहों में असर भर दे
मेरी नज़रों पे नज़र कर दे वे जानिया

Aaj Ro Le ne Jee Bhar Ke English Lyrics


Aaj Ro Lene De We Ji Bhar Ke
Meri saanson se daga kar ke
Tu gaya mujhako fana kar ke we jaaniya

Mera zakhm E dil hara kar de
Is gam ki ab dawa kar de
Nazaron ko baawafa kar de we jaaniya

Adat hai teri ya tera nasha hai
Kaise bataaun tujhako rahabara

Saanson ko teri zarurat, kare kaise bayaan koi
Ankhon men hai aisi rngat ki roshan ko jahaan koi
Dil bimaar-e-mohabbat hai
Bas chaahata thodi raahat hai

Tera Gam Hi Meri Mnzil Hai
Tu n kyon mujhako haasil hai
Hun main dariya tu hi saahil hai we jaaniya

Zinda hun hai mujhako hairat
Main tere bin jiya kaise
Saanson ne ki aisi jurrat
Zahar hns ke piya kaise

Tere dard se meri nisbat hai
Teri yaadon ki hasin sohabat hai
Ashkon se dilako tar kar de
Meri ahon men asar bhar de
Meri nazaron pe nazar kar de we jaaniya

Post a Comment

0 Comments