चौसठ जोगणी रे भवानी देवलिय रम जाय / Chosath JoganI Re Bhavani Devliye ram jaay

चौसठ जोगणी रे भवानी देवलिय रम जाय राजस्थानी दुर्गा भजन है Free Song Lyrics, Rajasthani Song Lyrics, Marwadi Song Lyrics, Rajasthani Bhajan Lyrics, Marwadi Satsang Bhajan Lyrics, Marwadi Desi Bhajan, Marwadi Bhajan Likhit, Desi Dhajan Lyrics In Hindi

चौसठ जोगणी रे भवानी देवलिय रम जाय Hindi Lyrics


दोहा:

देवा में देवी बड़ी, और बड़ी आरासुरी माँ,
लज्जा मोरी राखियो, कीजो म्हारी सहाय,
कीजो म्हारी सहाय, शरण में आया थारी,
जगदम्बे महारानी माँ, लाज रख दीजो म्हारी

देवलिय रम जाय भवानी, आंगणिये रमजाय
देवलिय रम जाय भवानी, मदिरिये रमजाय
चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता आंगणिये रमजाय


देवलिय रम जाय भवानी, आंगणिये रमजाय
देवलिय रम जाय भवानी, मदिरिये रमजाय
चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता आंगणिये रमजाय


हंस सवारी कर म्हारी माता ब्रह्मा रो रूप बणायो
हंस सवारी कर म्हारी माता ब्रह्मा रूप बणायो
ब्रह्मा रो रूप बणायो म्हारी मया, ब्रह्मा रो रूप बणायो
ब्रह्मा रो रूप बणायो म्हारी मया, ब्रह्मा रो रूप बणायो

चार वेद मुख चार बिराजे ...
चार वेद मुख चार बिराजे ...
चारां रो जस गायो

चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता आंगणिये रमजाय

गरुड़ सवारी कर म्हारी माता विष्णु रूप बणायो
गरुड़ सवारी कर म्हारी माता विष्णु रूप बणायो
विष्णु रो रूप बणायो नव दुर्गा विष्णु रो रूप बणायो
विष्णु रो रूप बणायो नव दुर्गा विष्णु रो रूप बणायो

गदा पद्म शंख चक्र बिराजे ...
गदा पद्म शंख चक्र बिराजे
मधुबन बंसी बजाई...

चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता आंगणिये रमजाय

नंदी सवारी कर म्हारी मया शिवजी जी  रूप बणायो
नंदी सवारी कर म्हारी मया, शिवजी जी रूप बणायो
शिवजी रो रूप बणायो नव दुर्गा शिवजी रो रूप बणायो
शिवजी रो रूप बणायो नव दुर्गा शिवजी रो रूप बणायो

जटा मुकुट में गंगा बिराजे...
जटा मुकुट में गंगा बिराजे...
शेषनाग लिपटायो

चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता आंगणिये रमजाय

मोर सवारी कर म्हारी माता कार्तिक रूप बणायो
मोर सवारी कर म्हारी माता कार्तिक रूप बणायो
कार्तिक रूप बनायो म्हारी माता कार्तिक रूप बणायो
कार्तिक रूप बनायो म्हारी माता कार्तिक रूप बणायो

शक्ति धारण हाथ में लेने....
शक्ति धारण हाथ में लेने....
हर हर शंख बजायो

चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता आंगणिये रमजाय

सिंह सवारी कर म्हारी माता शक्ति रो रूप बणायो
सिंह सवारी कर म्हारी माता शक्ति रो रूप बणायो
शक्ति रो रूप बणायो नव दुर्गा शक्ति रूप बणायो
शक्ति रो रूप बणायो नव दुर्गा शक्ति रूप बणायो

सियाराम थारी करे स्तुति ....
सियाराम थारी करे स्तुति ....
तुलसीदास जस गायो

चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता आंगणिये रमजाय

देवलिय रम जाय भवानी, आंगणिये रमजाय
देवलिय रम जाय भवानी, मदिरिये रमजाय
चौसठ जोगणी ए भवानी देवलिय रम जाय
घूमर घालणी ए माता देवलिय रम जाय

Check out the Video Song of the Above Lyrics



Song Full Details:


चौसठ जोगणी रे भवानी देवलिय रम जाय, राजस्थानी दुर्गा भजन आपको कैसा लगा कमेंट करके अपने विचारों से अवगत जरूर करें और इस गाने को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें

Post a Comment

0 Comments