लोमड़ी और अंगूर की कहानी | Fox And Grapes Story In Hindi

परिचय

कहानियाँ हमें जीवन के महत्वपूर्ण पाठ सिखाती हैं। यह कहानी एक भूखी लोमड़ी की है, जो अपनी भूख मिटाने के लिए बहुत कोशिश करती है, लेकिन अंत में अपनी असफलता को स्वीकार करने के बजाय अंगूरों को खट्टा कह देती है। इस कहानी से हम सीखते हैं कि हमें असफलता के बाद किसी चीज़ को बुरा नहीं कहना चाहिए, बल्कि सही प्रयास और धैर्य से काम लेना चाहिए।

भूखी लोमड़ी और अंगूर की कहानी

एक समय की बात है, एक जंगल में एक लोमड़ी रहती थी जो बहुत भूखी थी। वह भोजन की तलाश में इधर-उधर भटक रही थी। काफी देर तक खोजने के बाद भी उसे कुछ खाने को नहीं मिला। तभी उसकी नजर एक हरे-भरे बाग पर पड़ी। उस बाग से मीठी सुगंध आ रही थी। लोमड़ी को लगा कि उसकी खाने की तलाश अब खत्म होने वाली है, और वह बाग की ओर बढ़ चली।

जैसे-जैसे वह बाग के पास पहुंची, सुगंध और तेज हो गई। उसने सोचा कि इस बाग में जरूर कुछ स्वादिष्ट होगा। बाग में पहुंचते ही उसने देखा कि वहां अंगूर की बेलें लदी हुई हैं। अंगूर पके हुए और रसदार लग रहे थे। अंगूर देखकर उसकी भूख और बढ़ गई। उसने सोचा कि वह एक ही बार में सारे अंगूर खा जाएगी।

लोमड़ी ने अंगूरों को पाने के लिए एक लंबी छलांग लगाई, लेकिन वह अंगूरों तक नहीं पहुंच सकी और नीचे गिर पड़ी। उसका पहला प्रयास असफल रहा। उसने सोचा कि फिर से कोशिश करनी चाहिए। इस बार उसने पहले से भी अधिक ताकत लगाई, लेकिन फिर भी वह असफल रही। लोमड़ी ने हार नहीं मानी और तीसरी बार अपनी सारी ताकत लगाकर छलांग लगाई, लेकिन इस बार भी वह अंगूरों तक नहीं पहुंच सकी।

कई प्रयास करने के बावजूद जब वह अंगूरों को नहीं पा सकी, तो उसने अंततः हार मान ली। अपनी असफलता को छिपाने के लिए उसने कहा, “अंगूर खट्टे हैं, इसलिए मुझे इन्हें नहीं खाना।” इस तरह वह अपनी भूख के बावजूद खाली हाथ लौट गई।

कहानी से प्राप्त शिक्षा

इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि अगर हम किसी चीज़ को पाने में असफल रहते हैं, तो हमें उसकी बुराई नहीं करनी चाहिए। साथ ही, हमें अपने प्रयासों में धैर्य और निरंतरता बनाए रखनी चाहिए और जल्दी हार नहीं माननी चाहिए।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न और उत्तर

  1. प्रश्न: लोमड़ी किस चीज़ की तलाश में थी?
    उत्तर: लोमड़ी भोजन की तलाश में थी।
  2. प्रश्न: लोमड़ी को बाग में क्या मिला?
    उत्तर: लोमड़ी को बाग में अंगूर की बेलें मिलीं।
  3. प्रश्न: लोमड़ी ने अंगूर पाने के लिए क्या किया?
    उत्तर: लोमड़ी ने अंगूर पाने के लिए कई बार ऊँची छलांग लगाई, लेकिन सफल नहीं हो सकी।
  4. प्रश्न: लोमड़ी ने अंगूर न पाने के बाद क्या कहा?
    उत्तर: अंगूर न पाने के बाद लोमड़ी ने कहा कि अंगूर खट्टे हैं, इसलिए उसे नहीं चाहिए।
  5. प्रश्न: इस कहानी से हमें क्या सीख मिलती है?
    उत्तर: इस कहानी से हमें सीख मिलती है कि असफलता के बाद हमें किसी चीज़ की बुराई नहीं करनी चाहिए और धैर्य और सही प्रयासों से काम लेना चाहिए।

Leave a Comment